Breaking News

JEE-NEET: परीक्षा टाले जाने को लेकर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज

देशभर में इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई मेन का संचालन जारी है। आज परीक्षा का चौथा दिन है। 6 सितंबर तक यह परीक्षा खत्म हो जाएगी। वहीं, मेडिकल यूजी प्रवेश परीक्षा नीट को लेकर अब भी संशय की स्थिति बनी हुई है।

नीट और जेईई परीक्षाओं के खिलाफ छह गैर भाजपा शासित राज्यों के मंत्रियों की ओर से दाखिल याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट शुक्रवार को सुनवाई करेगा। इन याचिकाओं में शीर्ष अदालत से अपने पिछले आदेश पर पुनर्विचार करने का आग्रह किया गया है।

कोरोना संकट के बीच सुप्रीम कोर्ट ने 17 अगस्त को नीट और जेईई की मुख्य परीक्षाएं आयोजित करने की मंजूरी प्रदान की थी, जिसका गैर भाजपा शासित राज्य कड़ा विरोध कर रहे हैं। इन राज्यों का कहना है कि कोरोना महामारी के बीच देशभर में जेईई और नीट की परीक्षाएं आयोजित कर छात्रों के जीवन को खतरे में नहीं डाला जा सकता है।

परीक्षाएं कराए जाने का विरोध कर रहे राज्यों के मंत्रियों का दावा है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश में छात्रों के ‘जीवन के अधिकार’ की अनदेखी की गई। 13 सितंबर को नीट की परीक्षाएं आयोजित होनी है, जिसमें लाखों छात्र शामिल होंगे। वहीं, जेईई की मुख्य परीक्षाएं 1 से 6 सितंबर के बीच होनी है।

किन राज्यों के मंत्रियों ने लगाई है याचिका
परीक्षा टालने की अपील देश के 6 राज्यों के मंत्रियों ने लगाई है। ये सभी वे राज्य हैं जहां भाजपा की सरकार नहीं है। महाराष्ट्र, पंजाब, राजस्थान, पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़ और झारखंड के कैबिनेट मंत्रियों ने कोरोना वायरस महामारी का हवाला देते हुए परीक्षा स्थगित करने की मांग की है।