Breaking News

मायावती बोली, कितनी बार लूटी जाएगी संसद की इज़्ज़त…

बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने संसद में सरकार और विपक्ष की कार्यशैली की आलोचना करते हुए बुधवार को कहा कि यह लोकतंत्र को शर्मसार करने वाला है। उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने एक ट्वीट में कहा कि संसद के मौजूदा सत्र में सरकार और विपक्ष का व्यवहार और कार्यशैली से संसद की मयार्दा और संविधान की गरिमा तार-तार हुई है।

बसपा नेता ने कहा, ‘वैसे तो संसद लोकतंत्र का मन्दिर ही कहलाता है, फिर भी इसकी मयार्दा अनेकों बार तार-तार हुई है। वर्तमान संसद सत्र के दौरान भी सदन में सरकार की कार्यशैली व विपक्ष का जो व्यवहार देखने को मिला है वह संसद की मयार्दा, संविधान की गरिमा व लोकतंत्र को शर्मसार करने वाला है। अति-दु:खद।’ संसद में के उच्च सदन राज्यसभा में विपक्ष के हंगामें के दौरान आसन का माइक तोड़ा गया, दस्तावेज फाडे गए और सहायक कर्मचारियों को डराया धमकाया गया।

इसके बाद हंगामे के बीच सदन में कृषि से संबंधी विधेयक ध्वनिमत से पारित कर दिए गए। सभापति ने विपक्ष के आठ सदस्यों को एक सप्ताह के लिए निलंबित कर दिया। इसका विरोध करते हुए ये सांसद पूरी रात संसद भवन परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष धरने पर बैठे रहे। विपक्ष ने निलंबित सांसदों के समर्थन में संसद की कार्यवाही का बहिष्कार कर दिया।