शक से खत्म हो रहे हैं रिश्ते, तो रखें इन बातों का खास ख्याल

शक से खत्म हो रहे हैं रिश्ते, तो रखें इन बातों का खास ख्याल

एनटीटीवी- आज के समय में पति और पत्नी दोनों के ही वर्किंग होने से उनका रिश्ता कमजोर होतो जा रहा है। दोनों एक दूसरे पर शक करते हैं, यह शक आग में घी का काम कर रही है। गलती न होने के बाद एक दूसरे के बीच संवादहीनता और खुलकर बात न करने की आदत से भी यह समस्या बढ़ रही है।

पति पत्नी का रिश्ता विश्वास पर चलता हैं, और अगर यही विश्वास की डोर कमजोर हो जाए तो सारे रिश्ते मोतियों जैसे बिखर जाते हैं। आजकल पति पत्नी के रिश्तों में शक जहर घोल रहा है। शक एक ऐसी वजह है जो पति और पत्नी के संबंधों को खराब करने में बड़ी भूमिका निभा रहा है।

लेकिन इस समस्या से निपटा भी जा सकता है। इसके लिए पति और पत्नी को एक दूसरे के लिए समर्पित होना पड़ेगा। आधूनिक जीवन शैली का पति पत्नी के रिश्तों पर भी असर पड़ रहा है। जानकार मानते हैं कि देश में होने वाले अधिकतर तलाक की वजह शक ही है. पति को पत्नी पर शक है तो पत्नी को पति पर शक है।

बिशेषज्ञ कहते हैं कि एक दूसरे को ठीक ढंग से न समझ पाने के कारण शक का बीज पनपता है। इससे बचने के लिए आपस में खुलकर बातचीत करें। सामाजिक और व्यवहारिक बनें, इससे जिम्मेदारियां बढ़ेंगी और रिश्तों की अहमियत समझ में आएगी। महानगरों में इसका अभाव होने और एकल परिवार की धारणा के चलते भी शक  की बीमारी तेजी से फैल रही है.

घर में रिश्तों को निभाने की कोशिश करनी चाहिए। ऑफिस का माहौल घर में लाने से भी संबंधों में खराबी आती है। पति और पत्नी एक दूसरे को समय दें। पति पत्नी के रिश्ते में एक दूसरे का सम्मान करना सबसे अहम बात होती है, इसलिए ध्यान रखिए एक दूसरे का सम्मान करिए। ऐसा करने से रिश्तों में शक को आने से रोका जा सकता है। कोशिश करें कि छोटी छोटी खुशियों को साथ में जिया जाए।