इसलिए बसपा से निकाले गए सोनू- मोनू

इसलिए बसपा से निकाले गए सोनू- मोनू
सुल्तानपुर। उत्तर प्रदेश के बहुबलियो में शुमार पूर्व विधायक चंद्र भद्र सिंह सोनू और उनके भाई यश भद्र सिंह मोनू यू ही बसपा से नही निकाले गए, बाहुबली भाइयों को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाने की कई बड़ी वजह सामने आ रही है जिससे सियासी गलियारे में हल चल बढ़ गयी है। 
वैसे तो सोनू और मोनू अक्सर किसी न किसी वजह से चर्चा में रहते है लेकिन अब बसपा से निकाले जाने की वजह से सुर्खियों  में है सोनू ने लोक सभा चुनाव में मेनका ग़ांधी को कड़ी टक्कर दी थी मोदी लहर के बावजूद मेनका ग़ांधी महज 15 हजार वोट से जीत पाई थी..... कड़ी टक्कर देने के बाद भी सोनू बसपा सुप्रीमों की हिट लिस्ट में थे
 
सियासी गलियारे में चर्चा है कि सोनू के टिकट का सौदा 17 खोखे में तय हुआ था चुनाव के समय उन्होंने 15 खोखा दिया था और 2 खोखा  उधार कर दिया था, चुनाव हारने के बाद सोनू ने माया मेमसाहब को 2 खोखा नही दिया शायद ये बड़ी वजह थी बाहुबली भाइयों को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाने की। इसके अलावा चर्चा ये भी है कि सोनू और मोनू सपा में जाने का मन बना चुके है बात भी फाइनल है यह बात बसपा सुप्रीमों तक पहुँच गयी जिसका नतीजा सामने है बहरहाल  बाहुबली भाइयों का नया ठिकाना क्या होगा ये तो आने वाला वक़्त ही बताएगा....