Breaking News

Sultanpur:विधायक देवमणि के फेसबुक पोस्ट से मचा बवाल, विधायक ने दी सफाई

उत्तर प्रदेश की राजनीति में राम के बाद भगवान परशुराम की इंट्री से पहले ही बवाल खड़ा हो गया। सुल्तानपुर में जातीय राजनीति की गूंज अचानक उठने लगी, जब सदर विधायक देवमणि द्विवेदी के फेसबुक आईडी से ब्राम्हण शिरोमणि भगवान परशुराम का कार्टून वायरल हो गया। फेसबुक पोस्ट में भगवान परशुराम और भगवान राम को लेकर टिप्पणी की गई है। विवादित पोस्ट पर विधायक देवमणि द्विवेदी को ब्राह्मण विरोधी चेहरा दर्शाया गया है, ब्राह्मण और क्षत्रियों की रार में भगवान परशुराम और भगवान राम को कार्टून में लाकर ब्रह्मण क्षत्रिय का चुनावी माहौल बनाने की कोशिश की गई।कार्टून में दर्शाया गया है कि प्रताड़ित ब्रह्मण भगवान परशुराम के बजाय भगवान राम की शरण में जा रहा है।

 

फेसबुक पर ब्राह्मण चेतना मंच की टिप्पणी को संज्ञान में लेते हुए विधायक देवमणि द्विवेदी ने गाजियाबाद पुलिस को तहरीर दी है। हाई प्रोफाइल मामले में पुलिस ने तफ्तीश शुरू कर दी है।प्रकरण सुल्तानपुर के लंभुआ विधायक देवमणि द्विवेदी से जुड़ा हुआ है। फेसबुक पर ब्राह्मण का प्रताड़ित चेहरे के साथ एक कार्टून पोस्ट वायरल हुआ है। जिस पर समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस की तरफ से वार किया जा रहा है। विवादित कार्टून पोस्ट लंभुआ विधायक देवमणि द्विवेदी से जोड़कर देखा जा रहा है। जिस पर ब्राह्मण चेतना मंच ने आपत्ति जताते हुए भगवान परशुराम का अपमान करार दिया है। परशुराम चेतना मंच के संस्थापक और लंभुआ के पूर्व सपा विधायक संतोष पांडेय के समर्थकों ने विधायक पर ब्राह्मण विरोधी चेहरा होने का आरोप मढ़ा है। भगवान परशुराम के नाम पर ब्राह्मण विरोधी दर्शाए जाने पर विधायक ने भगवान राम से नसीहत लेने का संदेश दिया है। संदेश में भगवान राम से सीख लेते हुए भगवान परशुराम का आदर और सम्मान करने की बात फेसबुक पर पोस्ट की गई है।

फिलहाल पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए विधायक ने गाजियाबाद पुलिस को प्रार्थना पत्र देते हुए सोशल मीडिया सेल से जांच कराने की मांग की है। विधायक देवमणि दुबे दी कहते हैं कि उनके फेसबुक अकाउंट को हैक किया गया है। हांलांकि एक बात ये भी है कि फेसबुक की आईडी पर नीला निशान लगने के बाद उसे हैक करना इतना आसान नहीं होता, फिर भी पुलिस इस पूरे प्रकरण की जांच कर रही है। वहीं सफाई देते हुए विधायक देवमणि द्विवेदी ने कहा कि भगवान श्रीराम और भगवान परशुराम दोनों मेरे आदर्श है, इसमें कोई तात्विक भेद नहीं है।

 164 total views

0Shares